उत्तर कोरिया ने फिर दागी बैलिस्टिक मिसाइल, US ने जवाबी कार्रवाई करने की चेतावनी दी

North Korea has tested the ballistic missile again bypassing the warnings of the international community including the US. The South Korean army gave this information At the same time, the US has now warned North Korea to retaliate. Since being president of Donald Trump, North Korea has done missile testing nine times so far. Pentagon has also confirmed the North Korea's missile test on Saturday. CNN told the US officials that North Korea launched the KN-17 ballistic missile capable of measuring up to a medium range, which could not reach the Japan Sea.

उत्तर कोरिया ने अमेरिका समेत अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चेतावनी को दरकिनार कर फिर से बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया है. दक्षिण कोरिया की सेना ने यह जानकारी दी. वहीं, अमेरिका ने अब उत्तर कोरिया पर जवाबी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है. डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से अब तक उत्तर कोरिया नौ बार मिसाइल परीक्षण कर चुका है. पेंटागन ने भी उत्तर कोरिया की ओर से शनिवार को मिसाइल परीक्षण किए जाने की पुष्टि की है. सीएनएन ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से बताया कि उत्तर कोरिया ने मध्यम दूरी तक मार करने में सक्षम KN-17 बैलिस्टिक मिसाइल को मोबाइल से लांच किया, जो जापान सागर तक नहीं पहुंच सकी.
अमेरिकी सेना के पैसिफिक कमान के प्रवक्ता दवे बेनहम ने कहा कि उत्तर कोरियाई बैलिस्टिक मिसाइल शनिवार सुबह 10:33 बजे लांच की गई. हालांकि अभी तक उत्तर कोरिया की ओर से इस बाबत कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. अमेरिका के साथ गहराए तनाव के बीच उत्तर कोरिया की ओर से फिर से किए गए बैलिस्टिक मिसाइल ने वैश्विक चिंता बढ़ा दी है. 
दक्षिण कोरियाई सेना प्रमुख के मुताबिक शनिवार तड़के यह मिसाइल उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयोंग के उत्तर स्थित प्योनगान प्रांत के एक परीक्षण स्थल से लांच की गई. इससे पहले उत्तर कोरिया ने करीब 12 दिन पहले एक मिसाइल का परीक्षण किया था. उसने यूएन में धमकी भी दी थी कि वह हर हफ्ते मिसाइल परीक्षण करेगा. वहीं, व्हाइट हाउस ने बताया कि उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण की जानकारी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दे दी गई है.
 ट्रंप बोले- उत्तर कोरिया ने चीन का अपमान किया
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण कर चीन का अपमान किया है. यह बेहद बुरा है. दरअसल, चीन ने उत्तर कोरिया से मिसाइल परीक्षण और परमाणु कार्यक्रम को बंद करने को कहा था. ऐसे में ट्रंप चीन को अपने पक्ष में लाने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं. उनका यह बयान चीन को उत्तर कोरिया के खिलाफ उकसावे के रूप में माना जा रहा है.

 Follow
Donald J. Trump 
@realDonaldTrump
North Korea disrespected the wishes of China & its highly respected President when it launched, though unsuccessfully, a missile today. Bad!
उत्तर कोरिया का यह मिसाइल परीक्षण भी रहा विफल
अमेरिकी सरकार के सूत्रों का कहना है कि उत्तर कोरिया का यह मिसाइल परीक्षण विफल रहा. कोरियाई प्रायद्वीय में मौजूदा समय में गहराए तनाव के बीच उत्तर कोरिया के इस कदम के खिलाफ अमेरिका सैन्य कार्रवाई कर सकता है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप खुले लफ्जों में चेता भी चुके हैं कि दुनिया के लिए कैंसर बन चुके उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन का इलाज जरूरी है.

अमेरिका कर सकता है सैन्य कार्रवाई
दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति के इन लफ्जों को हल्के में नहीं लिया जा सकता है. ट्रंप यह भी साफ कर चुके हैं कि उत्तर कोरिया के साथ भीषण संघर्ष होगा. इसके अलावा अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन भी कह चुके हैं कि अमेरिका उत्तर कोरिया के खिलाफ सैन्य कार्रवाई करना चाहता है. ऐसे में उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के जवाब में अमेरिका उस पर सैन्य कार्रवाई कर सकता है. वहीं, उत्तर कोरिया भी अमेरिका पर परमाणु हमले की चेतावनी दे चुका है.
source zee news

Post a Comment

News24x7

(c) News24x7

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget